Subscribe Us

Recent Posts

piles treatment in homeopathy in hindi


आज हम सभी अमरबेल के फायदों को जानते हैं अमरबेल के गंजेपन से लेकर बवासीर तक बेहद लाभकारी उपयोग है तो इसीलिए जानते हैं कि गंजेपन को कैसे दूर कर सकते हैं अमरबेल और बवासीर को कैसे छूमंतर कर सकती है |


 अमरबेल गंजेपन, गठिया, जोड़ों के दर्द, बवासीर, चोट लगने पर, बच्चों की लंबाई बढ़ाने, नजर कमजोर होने आदि रोगों  पर उपयोगी है|

piles treatment in homeopathy in hindi
Piles treatment in homeopathy in hindi

अमरबेल कैसी होती है |


अमरबेल अक्सर पेड़ो की टहनियों में लिपटी एवं फैली हुई पाई जाती है और ये बहुत कोमल और रसीली होती है|
ये हलके हरे रंग की होती हैं जो की जाल की तरह चारो ओर फैली होती हैं |
अमरबेल पेड़ की जड़ों के अंदर से निकलती है इसका मिट्टी से कोई लेना देना नहीं होता है इसकी टहनी को किसी पेड़ पर फेक दो तो ये वही पर चढ़ने लगती है और पेड़ की टहनियों का रस चस कर के जीवित रहती है|

अमरबेल कहा पाई जाती है |

ये लगभग पूरे भारतवर्ष में पाई जाती है और अलग-अलग छेत्रो में अलग-अलग नामो में जाना जाता हैं जैसे की आकाश बलि, कसुसे हिन्द, निर्मुली, आलोक लता, अंधा बेल, आकाश बेल, रस बेल इत्यादि नामों से जाना जाता है|

अमरबेल का आयुर्वेद में प्रयोग

अमरबेल का आयुर्वेद में एक विशेष स्थान है आयए जानते हैं हम इसके फायदे के बारे में |

गंजेपन में अमरबेल का प्रयोग

गंजापन होने पर या बाल झड़ने पर 30 ग्राम अमरबेल को पीसकर उसमें दो चम्मच तिल का तेल मिलाकर सिर पर मसाज करने से बाल झड़ना रूक जाता है और टूटे बाल पुनः आने लगते है|

अमरबेल बालो के लिए राम बान दावा मानी जाती है रोज अमरबेल को घोट कर बालो को धोने से जल्दी फैदा होता है |

अमरबेल रूशी को पुरी तरह से गायब कर देती है|


गठिया एवं जोड़ों का दर्द में अमरबेल का प्रयोग 

गठिया एवं जोड़ों का दर्द में अमरबेल का प्रयोग पेस्ट बनाकर किया जाता है अमरबेल का पेस्ट को गठिया एवं सूजन के स्थान में लेप लगा दे और पट्टी लगा दे आपको जल्द ही आराम मिलेगा |


बवासीर में अमरबेल का प्रयोग

बवासीर होने पर 20 ग्राम अमरबेल का स्वरस लेकर यानी कि अमरबेल का रस लेकर इसको 5 ग्राम जीरा पाउडर और 4 ग्राम काली मिर्च पाउडर में अच्छे से घोट कर, एक गिलास पानी में मिलाकर लगातार सुबह-शाम 3 दिन पीने से खूनी और बादी बवासीर दोनों में ही बहुत आराम होता है|


चोट के घाव के दर्द निवारण के लिए अमरबेल खास है घाव के चारो एक चमच गाय के घी के साथ लगाने से घाव जल्दी भर जाता है और दर्द भी नहीं होता है|


बच्चों की लंबाई बढ़ाने में अमरबेल का प्रयोग बच्चों की लंबाई तेजी से बढ़ाने में अमरबेल सक्षम है अमरबेल का एक चम्मच रस निकालकर दूध में मिलाकर कम कद काठी वाले बच्चों को पिलाने से उनकी लंबाई बढ़ती है बच्चों के पेट में अगर कीड़े हो तो नष्ट करने में अमरबेल सक्षम है|


आंखों के लिए अमरबेल का प्रयोग

आंखों के लिए अमरबेल का प्रयोग नजर कमजोर होने पर आँखों पर सूजन होने पर अमरबेल का लेप आँखों की पलकों पर लगाने से धीरे-धीरे फायदा होता है| 


piles treatment in homeopathy in hindi piles treatment in homeopathy in hindi Reviewed by Triveni Prasad on September 14, 2019 Rating: 5

No comments:

Comments System

Powered by Blogger.